Join WhatsApp Channel

Join Telegram Group

Businesses: गांवो में होगी लाखों की कमाई, आज ही शुरू करें ये टॉप 5 बिज़नेस,

Top 5 Businesses In villages Areas:-  गांव में भी रहकर लाखों रुपए महीने का कमाया जा सकता है जी हां, आपने सही पढ़ा है। यदि आप गांव में रहते हैं और गांव में ही रह कर पैसा कमाना चाहते हैं। तो आप कुछ प्रकार के बिजनेस कर सकते हैं। जिससे आपको अच्छी खासी कमाई हो। यह बिजनेस उन युवाओं के लिए सबसे ज्यादा कारगर साबित हो सकता है। जो अपनी पढ़ाई पूरी कर चुके हैं और बिजनेस करना चाहते हैं। वह गांव में ही रहकर यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

तो आज हम आप सभी युवा भाइयों और बहनो के लिए पांच ऐसे बिजनेस लेकर आये हैं। जिसे आप कम पैसे के साथ शुरू कर के महीने का लाखों रुपए कमा सकते हैं। और इसके लिए आपको किसी बड़े स्किल की जरूरत नहीं है। आज हम आपको बताएंगे कि आप यह बिजनेस कैसे करना है और इससे कितना लाभ कमाया जा सकता है। तो लेख को पढ़ते रहे।

1- कृषि क्लीनिक का व्यापार (Agriculture Clinic Business )

गांव में रहकर किसान भाई कृषि क्लीनिक खोलकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। नाबार्ड और राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान द्वारा कृषि स्नातकों के लिए यह योजना शुरू की गई थी। जिसके तहत सरकार इस तरह के बिजनेस करने के लिए युवाओं की मदद कर सके। कृषि क्लीनिक और कृषि व्यवसाय केंद्र योजना बहुत पुरानी योजना है। इस योजना की शुरुआत साल 2000 में हुई थी। इसका मुख्य उद्देश्य था कि ग्रामीण क्षेत्र में स्नातकों छात्रों को रोजगार देकर आर्थिक रूप से मजबूत बनाना।

इसके साथ-साथ सरकार का मुख्य उद्देश्य था कि कृषि क्लीनको के माध्यम से प्रौद्योगिकी, कीटों और रोगों से सुरक्षा, किसानो का बाजार के प्रति रुझान तथा पशु चिकित्सा सहित अनेक सेवाएं किसानों को विशेषज्ञों द्वारा प्राप्त हो सके। जिसके चलते किसानों की आय में वृद्धि हो और देश का विकास हो। इन कृषि व्यवसाय केंद्रों के माध्यम से किसान कृषि उपकरण किराए पर देने जैसी योजना भी शामिल की गई थी।

इस योजना के तहत प्रत्येक यूनिट को दो प्रकार से सब्सिडी दिया जाता है। यह सब्सिडी बैंक के माध्यम से परियोजना की पूरी लागत पर 25% की सब्सिडी मिलती है। वही अगर आप अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति या कोई महिला इस तरह का व्यवसाय करना चाहती हैं। तो उन सभी को 33 % की सब्सिडी दी जाती है। यह सभी सब्सिडी नाबार्ड के द्वारा प्रदान की जाती है।

इसे भी पढ़े 

2- डेयरी का व्यवसाय (Dairy Business)

गांव में ही रहकर युवा डेयरी का व्यवसाय कर सकते हैं। जिसकी मांग बहुत तेजी से बढ़ती जा रही हैं। देश में दूध का उत्पादन कम होता जा रहा है और दूध की मांग बढ़ती जा रही है। जिसको देखते हुए अगर युवा डेयरी का व्यवसाय खोलते हैं। तो वह अच्छा पैसा कमा सकते हैं। डेयरी का व्यवसाय खोलने के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी भी प्रदान की जाती है।

डेयरी खोलकर आप दूध, दही, मक्खन, पनीर जैसे तमाम प्रकार के उत्पादन बनाकर बेच सकते हैं और अच्छा पैसा कमा सकते हैं। अगर डेयरी फार्म खोलने के लिए आपको लोन की जरूरत है। तो आप बैंक से लोन ले सकते हैं। उस पर सरकार सब्सिडी भी देती है। इस तरह से आप आसानी से डेरी का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

सरकार की तरफ से डेयरी उद्यमिता विकास योजना भी चलाई जा रही है। आसानी से सब्सिडी प्राप्त किया जा सकता है। सामान्य वर्ग के लोगो को 25% सब्सिडी दी जाती है। वहीं अनुसूचित जात, अनुसूचित जनजाति और अगर कोई महिला डेयरी व्यवसाय करना चाहती है तो इन सभी को 33% की सब्सिडी प्रदान किया जाता है। वहीं अगर आप 10 पशुओं की डेरी खोलते हैं तो आपको 10 लाख तक का लोन भी दिया जा सकता है।

3- मुर्गी का पालन व्यापार (Poultry Business)

गांव में सबसे अधिक कमाई करने वाले बिजनेस मे से एक है मुर्गी पालन। जी हाँ सर्दियों के समय में मुर्गी के अंडा और चिकन की मांग बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। इस कारण इसमें अच्छा पैसा कमाया जा सकता है। हालांकि मुर्गी के अंडे और चिकन की मांग तो पूरे साल बनी रहती है। लेकिन सर्दियों में इसकी मांग दुगना हो जाती है। जिसके कारण भाव पहले के तुलना मे अच्छा मिलता है और अच्छी कमाई होती है।

मुर्गी पालन एक ऐसा बिजनेस है जो कि पूरे साल लाभ देता है। मुर्गी पालन करने के लिए सरकार सब्सिडी भी प्रदान करती है। अगर आप किसी सरकारी बैंक से लोन लेते हैं। अधिकांश राज्यों में पोल्ट्री फार्मिंग के लिए 25 से 30% अनुदान दिया जाता है। वही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा 5000 मुर्गी फार्म खोलने के लिए 3 लाख तक का लोन देती है। बैंक आपको यह भी सुविधा देती है कि आप 5 वर्ष के अंदर बैंक के लोन का भुगतान कर सकते हैं।

4-जैविक खेती का बिजनेस (Organic Farming Business)

गांव में पढ़े-लिखे युवा अगर जैविक खेती का व्यवसाय करें तो बहुत ही अच्छा पैसा कमा सकते हैं। क्योंकि जैविक खेती का मांग जिस प्रकार से बढ़ रही है उसको देखते हुए जैविक खेती करके भी अच्छा पैसा कमाया जा सकता है या जैविक प्रोडक्ट बना कर बेच के भी अच्छा पैसा कमाया जा सकता है। रासायनिक खादों के लगातार प्रयोग से भूमि तथा स्वास्थ्य दोनों को नुकसान हो रहा है। इसलिए सरकार भी चाहती है कि जैविक खेती को अपनाया जाए और जैविक उत्पादकों को भी तैयार किया जाए। जैविक खेती करने में कम खर्च आता है। क्योंकि वहां पर महंगे रासायनिक खादों का इस्तेमाल नहीं होता है। बल्कि जैविक खेती करने के लिए गोबर, केंचुआ, गोमूत्र जैसी प्राकृतिक खादों का प्रयोग किया जाता है।

जैविक खेती करने के लिए सरकार 80 से लेकर 90% तक की सब्सिडी का लाभ प्रदान करती है। सरकार का मुख्य उद्देश्य है कि ज्यादा से ज्यादा किसान या लोग जैविक खेती करें। वही कई राज्यों की सरकारे 9000 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से आर्थिक सहायता प्रदान कर रही हैं। उस धनराशि में किसान भाई पर बीज, खाद, और हरी खाद ले सकते है। बता दें कि अभी राजस्थान में जैविक खेती के लगभग 4 हजार से 5 हजार के क्लस्टर चल रहे हैं।

इसे भी पढ़े 

5-कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस (Cold Storage Business)

गांव में कोल्ड स्टोरेज की भी मांग बढ़ती जा रही है। बेरोजगार युवा कोल्ड स्टोरेज खोलकर अच्छा पैसा कमा सकते हैं। आज गांव में कोल्ड स्टोरेज ना होने के कारण किसानों की सब्जियां, फल, अनाज सहित कई चीजें खराब हो जाती हैं। यदि आप गांव में कोल्ड स्टोरेज खोलते हैं। तो किसानों को सुविधा प्रदान करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं। कोल्ड स्टोरेज में आप सब्जियां, फल, अनाज रखकर किसानों से दिन या महीने के हिसाब से पैसा ले सकते हैं। यहां आपको भी फायदा होगा और किसानों को भी फायदा होगा। किसानों की फल और सब्जियां ज्यादा दिनों तक ताजा बनी रहेगी और उन्हें अच्छी दाम पर बेच सकेंगे और वही आपको कुछ किराए के रूप में पैसा मिल जायेगा। यहां पर दोनों का लाभ हो जाएगा। एक तीर से दो निशाना

कोल्ड स्टोरेज खोलने के लिए सरकार भी मदद कर रही हैं। जिसके तहत किसानों को एकीकृत विकास मिशन के तहत कोल्ड स्टोरेज की स्थापना के लिए सरकार की ओर से क्रेडिट लिंक्ड बैक एंडेड में सब्सिडी भी दी जा रही है। यह सब्सिडी मैदानी और पहाड़ी क्षेत्रों के लिए अलग है। सामान्य व मैदानी क्षेत्रों में 35% की सब्सिडी प्रदान की जा रही है। वहीं अगर कोई पहाड़ी क्षेत्र में रहता है और वहा कोल्ड स्टोरेज बनाना चाहता है। तो वहां सरकार 50% की सब्सिडी प्रदान कर रही है।

किसान भाईयों इस महत्वपूर्ण जानकारी को अधिक से अधिक हमारे सभी किसान भाइयों तक शेयर ज़रूर करें और आपका कोई भी सवाल हो या कोई भी राय हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में ज़रुर लिखें। धन्यवाद

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

एक बीघा से 48 लाख कमाओ इस खास फसल की खेती करके !