Join WhatsApp Channel

Join Telegram Group

आंवला की खेती कैसे शुरु करें, महीने का लाखो कमाएँ | Amla Ki Kheti Kyse kare In Hindi

Amla Ki Kheti Kyse Kare In Hindi : आंवले की खेती एक ऐसा बिजनेस है। जहां कम लागत में ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है। आंवला औषधीय गुणों के लिए भी जाना जाता है। आंवला मे विटामिन सी की भरपूर मात्रा पायी जाती है। जिसके कारण आंवला की मांग बाजार में हमेशा बनी रहती है। आंवला से कई प्रकार के प्रोडक्ट कंपनियां बनाती है जैसे-  विभिन्न प्रकार के शैंपू, बालों में लगाने वाला तेल, डाई, दांतो का पाउडर, और मुंह पर लगाने वाली क्रीमें । आंवला से सर्दी, खांसी, बुखार, त्वचा से संबंधित रोग, बालों से संबंधित कई प्रकार की समस्याओं, आंखों की रोशनी बढ़ाने से लेकर कई प्रकार में आंवला बहुत ही कारगर साबित होता है।

इसीलिए आंवला की मार्केट में हमेशा डिमांड बनी रहती है। आंवला की बागवानी करके आप महीने का लाखों रुपए कमा सकते हैं। भारत देश में उत्तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश आंवला के मुख्य उत्पादक राज्य माने जाते है। आंवला की खेती किसी भी जगह में किया जा सकता है। आज हम आपको बताएंगे कि आंवला की खेती (gooseberry cultivation) कैसे करें और कैसे अच्छा मुनाफा कमाए, यह जानने के लिए लेख को पूरा पढ़ें।

आंवला की खेती के लिए मौसम

आंवला की बागवानी उन इलाकों में सर्वोत्तम मानी जाती है। जहां पर तापमान शून्य डिग्री से 45 डिग्री के बीच में तापमान होता है। क्योंकि आंवले के पौधे को बढ़ने के लिए गर्मी की ज्यादा जरूरत होती है। अगर मौसम ज्यादा समय तक ठंड पड़ता है तो पौधे के नुकसान होने की आशंका बढ़ जाती है। वैसे आंवला की बागवानी लगभग सभी मौसमों में किया जा सकता है।

आंवला की खेती के लिए मिट्टी

आंवला की खेती हर प्रकार की मिट्टी में उगाया जा सकता हैय़ मिट्टी का पीएच मान लगभग 6.00 से 9.00 तक होना चाहिए। आंवला की खेती करते समय उस मिट्टी का चयन करना होगा। जहां पर जलभराव की समस्या ना हो, पानी आसानी से निकल जाए। क्योंकि जल निकासी से पौधे नष्ट हो जाते हैं।

इसे भी पढ़े 

खेती करने का सही समय

आंवला की खेती आमतौर पर लगभग हर महीने में किया जा सकता है। लेकिन आमतौर पर जो सबसे अच्छा माना गया है। वह जुलाई से सितंबर के महीने में आंवले की खेती करना सबसे सर्वोत्तम माना गया है। हालांकि कई जगह पर किसान इस खेती को जनवरी से फरवरी माह में भी करते हैं।

मट्टी की तैयारी कैसे करें

किसी भी फसल को तैयार करने से पहले उसकी मिट्टी को तैयार करना सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। आंवले के पौधे को लगाने से पहले मिट्टी को तैयार करने के लिए सबसे पहले उसकी जुताई करवाएं, हो सके तो आप रोटावेटर का भी उपयोग कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि जुताई कराते समय पिछली फसल के अवशेष पूरी तरह से नष्ट हो जाने चाहिए। ताकि वह आगे किसी भी प्रकार की समस्या ना पैदा करें। इसके बाद उसमे जैविक खाद या गोबर की खाद को डाल कर, एक बार दोबारा से जुताई कराएं और फिर खेत मे पाटा चला कर उसको समतल बनाएं।

पौधे कैसे लगाये

आंवला का पौधा लगाने के लिए आपको 1 मीटर गहरा गड्ढा खोदना होगा और उसमें पौधे के बीज को लगाना होगा। इसके बाद आपको 10 से 15 दिनों तक उसको खुला छोड़ देता ताकि सूरज की धूप उसमें लग सके तथा एक पौधे से दूसरे पौधे की बीच की दूरी लगभग 4 से 5 मीटर होनी चाहिए।

आंवले की उन्नत किस्में कौन कौन सी है

आंवले की बागवानी करने के लिए आपको उन्नत किस्म को चुनने की जरूरत होती है। अच्छे किस्म का चुनान करना ज्यादा जरूरी होता है। अच्छी किस्म से आपको ज्यादा मुनाफा होगा। कुछ महत्वपूर्ण किस्मे नीचे दी गई है। उसमें से आप एक किस्म को चुनकर उसे लगा सकते हैं।

  • Banarasi
  • Krshna
  • Francis
  • Kanchan
  • Chakaiya
  • NA-6
  • NA-7
  • NA-9
  • NA-10

इसे भी पढ़े 

सिंचाई और उर्वरक प्रबंधन

आंवले की बागवानी करने के साथ-साथ उसकी सिंचाई और उर्वरक प्रबंधन करना बहुत ही जरूरी होता है। जिससे पौधा सही समय पर बढ़ सके। गर्मी के मौसम में आंवले की खेती को 15 दिनों के अंतराल पर सिंचाई करते रहना चाहिए।बारीश के मौसम मे आपको सिंचाई नहीं करना चाहीए। सर्दी के मौसम में भी आपको पौधे को पानी देना बहुत ही जरूरी होता है। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि फल खाते समय आपको सिंचाई जरूर करना है।

आंवले की खेती करने के एक साल में एक बार मे आपको प्रति पौधा 100 ग्राम नाइट्रोजन, 100 ग्राम पोटास, 50 ग्राम फासफोरस डालें तथा साल दर साल इसकी मात्रा बढ़ाते रहें। क्योंकि पौधे भी बड़े हो जाते हैं। तो उस मात्रा से आपको उर्वरक भी बढ़ा देना है।

आंवला की खेती से कमाई

आंवले की मांग बाजार में हमेशा बनी रहती है यह तो आप ऊपर समझ ही चुके हैं। यदि 1 एकड़ खेत में आंवले की खेती किया जाए तो लगभग 25 से 30 हजार प्रति एकड़ के हिसाब से आप का खर्चा आएगा। वही अगर वैज्ञानिक तरीके से आप आंवले की खेती करते हैं तो आप 45 से 55 कुंटल से ज्यादा आंवला 1 एकड़ में प्राप्त कर सकते हैं। अगर इस तरह से देखा जाए तो साल भर के अंदर आप लगभग 1 से 1.5 लाख रुपए आसानी से कमाई कर सकते हैं।

FAQ :

Q : आंवला की खेती कितने साल मे तैयार होती है?

Ans : आंवला की खेती लगभग 7 से 8 साल मे तैयार हो जाती है। वही कलमी पौधा 8 से 10 साल बाद तैयार होता है। एक बार पौधा तैयार होने के बाद 60 से 75 साल तक फल देता है। आंवला की विभिन्न किस्मों की उपज में भिन्नता होती है।

Q : आंवला का पेड़ कैसे उगाये?

Ans : आँवला के पौधे को तैयार करने के लिए अच्छी मिट्टी का हो जरुरी है। आप बलुई, चिकनी मिट्टी, मे भी कर सकते है। आंवले के बीज को 0.6 सेंटीमीटर (1/4 इंच) की गहराई में लगा सकते है।

Q : आंवले की उन्नत किस्म कौन सी है?

Ans : आंवले की कई उन्नत किस्में है । बनारसी, कृष्णा- ये दोनों जल्दी पकने वाली किस्में है और इनकी औसतन पैदावार 120 किलो प्रति पेड़ होती है।

Q : आंवले की खेती से कितनी कमाई हो सकती है?

Ans : आंवले की खेती से लगभग देखा जाए तो साल भर के अंदर आप लगभग 1 से 1.5 लाख रुपए आसानी से कमाई कर सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

एक बीघा से 48 लाख कमाओ इस खास फसल की खेती करके !