Join WhatsApp Channel

Join Telegram Group

करेले की खेती करने का सही तरीका जाने

किसान भाई अपनी आय बढ़ाने के लिए करेले की खेती कर सकते है। सब्जियों की खेती कम समय में तैयार होती है। और अधिक मुनाफा कमाया जा सकता है। जबकि लंबी अवधि की खेती जैसे गेहूं, चना, सरसों, धान आदि फसलो में कमाई करने मे समय लगता है। इसीलिए कई राज्य किसान भाइयों को सब्जी की खेती करने के लिए भी प्रोत्साहित भी करती है। जिससे किसान भाई अधिक से अधिक सब्जी की खेती करके अच्छी कमाई कर सकें। करेले की खेती कैसे करें, क्योंकि करेले का बाजार में इसका भाव अच्छा मिलता है। किसान भाई करेले की खेती करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

करेले की खेती के लिए उपयुक्त मिट्‌टी

करेले की खेती तो लगभग सभी प्रकार की मिट्टी में किया जा सकता है। लेकिन बलुई दोमट मिट्टी सबसे उत्तम मिट्टी मानी जाती है। इसके अलावा जलोढ़ मिट्टी भी करेले की खेती के लिए अच्छी मानी जाती है।

करेले की खेती के लिए आवश्यकता तापमान?

करेले की खेती के लिए खेत मे नमी का होना जरुरी है। फसल के अधिक उत्पादन के लिए 20 डिग्री सेंटीग्रेट लेकर से 40 डिग्री सेंटीग्रेट के बीच तापमान अच्छा माना गया है।

करेले की उन्नत किस्में

करेले की उन्नत पैदवार करने के लिए किसान भाइयो को उन्नत किस्मो का चयन करना होगा। करेले कुछ उन्नत किस्मे नीचे दिये गये है

  • अर्का हरित
  • पूसा हाइब्रिड-2
  • कल्याणपुर बारहमासी
  • पंजाब-14
  • पूसा शंकर-1
  • पूसा दो मौसमी
  • पूसा विशेष
  • प्रिया को-1
  • पंजाब करेला-1
  • हिसार सलेक्शन
  • एस डी यू- 1

इसे भी पढ़े 

करेले की खेती करने का सही समय

करेले की खेती किसी भी महीने मे कि जा सकती है। वैज्ञानिकों ने करेले कई नई किस्में विकसित कर दी है। जिससे किसान भाई साल मे किसी भी महीने मे खेती कर सकते है। अगर मौसम की बात किया जाय तो गर्मी के मौसम मे जनवरी से मार्च तक इसकी बुआई कर सकते है। बारिश के मौसम करेले की खेती जून से जुलाई के बीच मे होती है तथा पहाड़ियों क्षेत्रों मे मार्च से जून मे भी किया जा सकता है।

करेले की खेती की सिंचाई

करेले की खेती में कम पानी की जरूरत होती है, खेत मे बुआई करने के बाद इसकी हल्की सिंचाई करनी चाहिए अगर खेत मे नमी ना हो तथा फूल व फल बनने की अवस्था में इसकी हल्की सिंचाई करनी चाहिए। लेकिन खेत मे पानी ना लगे इस बाद का ध्यान जरुर रखे।

करेले की खेती के लिए निराई-गुडाई

करेले की खेती मे निराई-गुड़ाई की शुरुआती समय मे ही जरुर होती है। इसके लिए खेत की निराई-गुडाई करके इन खपतवार वाले पौधों को हटा कर खेत से दूर फेंक देना चाहिए। जिस फसल अच्छे से हो सकते है।

करेले की तुड़ाई कब करें

करेले की खेती लगभग 60 से 70 दिनों में तैयार हो जाती है। किसान भाइयों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए। करेला तोड़ते समय हल्का मुलायम रहे तभी करेले की तुड़ाई कर लेनी चाहिए। करेले की तुड़ाई हमेशा सुबह के समय करनी चाहिए।

करेले की खेती मे लागत और मुनाफा

करेला की खेती मे अच्छा मुनाफा प्राप्त होता है। 1 एकड़ में करीब 25 से 30 हजार रुपये की लागत आती है। वही किसान भाई अगर 1 एकड़ में लगभग 40 से 50 क्विंटल पैदावार कर सकते हैं। अगर इसके मुनाफे की बात किया जाए तो किसान 1 एकड़ में 2 से 3 लाख आराम से कमा सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

एक बीघा से 48 लाख कमाओ इस खास फसल की खेती करके !