Join WhatsApp Channel

Join Telegram Group

घर की छत पर गमले मे टमाटर की खेती कैसे करें

घर की छत पर गमले में टमाटर की ऑर्गेनिक सब्जी उगाकर उसका भरपूर फायदा ले सकते हैं। भारत देश में भी छतों पर गार्डनिंग और ऑर्गेनिक खेती घरों लोग धीरे-धीरे कर रहे हैं। शहरों में तो लोग अपनी जरुरत की सब्जी उगा रहे है। अपने घर की छत को एक गार्डन के रूप में बना रहे है। ऑर्गेनिक सब्जी खाने से स्वास्थ्य काफी अच्छा रहता है। कई प्रकार की बीमारियां नहीं होती है। घर की छत पर गार्डनिंग बनाने से घर का वातावरण भी सुंदर दिखाई देता है।

किचन गार्डनिंग करने के लिए आप अपने घर पर ग्रो वाले बैंग या गमले में कई प्रकार की सब्जियां उगा सकते हैं। जैसे- गोभी, बैंगन, मूली, कद्दू, ककड़ी, खीरा, के साथ टमाटर की उन्नत खेती कैसे करें आज हम इस पोस्ट में आपको बताएंगे। आप टमाटर की खेती गमले में कैसे कर सकते हैं। तो हमारे साथ बने रहिए।

गमले मे उगाई जाने वाली सब्जियां

भारत देश की जनसंख्या धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है और खेती करने के लिए जमीन कम पड़ती जा रही है। इसके लिए नई – नई प्रकार की टेक्नोलॉजी का लोग उपयोग कर रहे हैं। अब धीरे-धीरे लोग घर की छतों पर अपने खाने-पीने की सब्जियां उगा रहे हैं। अगर हम बात करें कि आप अपने घर की छत पर कौन-कौन सी सब्जियां उगा सकते हैं। तो इसमें टमाटर, हरी मिर्च, करेला, कद्दू, लौकी, खीरा सहित तमाम प्रकार की सब्जियां अपने छत पर आसानी से उगा सकते हैं। इसके लिए मात्र हमें छोटे-छोटे गमले या ग्रो बैग की जरूरत होती है। इसमें हम जरूरत के हिसाब से गमले में पुरानी मिट्टी भरते हैं और उसमें पोषक तत्व मिलाकर पौधे को लगाते हैं।

गमले मे खेती करने के लिए औजार

अगर आप अपने छत पर एक खूबसूरत गार्डन बनाना चाहते हैं। नई-नई प्रकार की सब्जियां और फल उगाना चाहते है। उसका स्वाद लेना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको कुछ प्रकार की औजार की जरूरत होगी। जो कि खेती करते समय आपके उपयोग में आएगी। टमाटर की खेती करने के साथ-साथ अन्य प्रकार खेती मे यह निम्न प्रकार के औजार की जरूरत होती है जो नीचे दिए गए हैं

  • सीडलिंग ट्रे ( पौधे तैयार करने के लिए)
  • मिट्टी
  • ग्रो बैग या गमला
  • हैंगिंग पोट्स ( पौधे उगाने के लिए )
  • खाद व पोषक तत्व
  • गार्डन टूल्स
  • हैंड ग्लव्स
  • हैंड ट्रॉवेल (मिट्टी की खुदाई के लिए)
  • हैंड प्रूनर ( कटिंग लेने के लिए )
  • गार्डन फोर्क ( मिट्टी तैयार करने के लिए )
  • क्रीपर नेट
  • स्प्रे पंप (कीटनाशकों छिड़काव के लिए)

इसे भी पढ़े 

गमले मे टमाटर की उन्नत किस्में कौन सी है?

गमले में टमाटर की खेती करने के लिए आपको स्वर्ण लालिमा, पूसा एवरग्रीन, स्वर्ण नवीन, स्वर्ण समृद्धि और स्वर्ण संपदा इस प्रकार के किस्मों के पौधे लगाना चाहिए जो कम लागत में अच्छा मुनाफा देते हैं।

टमाटर की खेती करने के लिए कई उन्नत किस्में हैं। इसमें कुछ देसी किस्मे है और कुछ हाइब्रिड किस्में हाइब्रिड किस्म है। हाइब्रिड किस्मो मे पूसा हाइब्रिड-1, पूसा हाइब्रिड-2, पूसा हाइब्रिड-4, रश्मि और अविनाश-2 प्रमुख है। जबकि देशी किस्मो मे पूसा शीतल, पूसा-120, पूसा रूबी, पूसा गौरव, अर्का विकास, अर्का सौरभ और सोनाली प्रमुख है।

गमले मे टमाटर की गार्डनिंग कैसे करें

टमाटर एक ऐसी सब्जी है। जिसका उपयोग हर दिन और हर सब्जी में लगभग किया ही जाता है। किचन में अगर टमाटर ना हो तो सब्जी अधूरी रहती है। टमाटर की खेती करने के लिए कई प्रकार की सावधानियां बरतनी पड़ती है। टमाटर हमारे स्वास्थ्य के लिए भी काफी अच्छा लाभदायक होता है। टमाटर में कैरोटीन नामक एक तत्व पाया जाता है जो स्वास्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन, पोटेशियम, की भरपूर मात्रा में पायी जाती हैं।

टमाटर की खेती करने का सही समय

टमाटर खेती आप अगर जनवरी में करना चाहते है। तो आपको नवंबर के लास्ट या दिसंबर के पहले सप्ताह में ही टमाटर की नर्सरी तैयार करनी होती है और जनवरी के दूसरे सप्ताह तक आपको टमाटर की रोपाई कर देनी चाहिए। अगर आप सितंबर माह में टमाटर की खेती करना चाहते हैं। इसके लिए आपको जुलाई में ही नर्सरी तैयार करनी होगी। अगर आप इसकी खेती मई मे करना चाहते हैं तो आप को अप्रैल और मार्च मे नर्सरी तैयार करनी होगी।

गमला की तैयारी और पेड़ की रोपाई

गमले में टमाटर की खेती करने के लिए आपको, एक ऐसा गमला लेना है। जिसके में एक छेद होना चाहिए। जिससे टमाटर का पेड़ सूखे ना। गमले मे आप मिट्टी और जैविक खाद को मिलाकर उसमें भरना है। इसके बाद टमाटर की नर्सरी को उस गमले मे लगा देना है। पौधे की रोपाई हमेशा शाम के समय करें और पौधा लगाने के बाद पानी जरूर दें।

इसे भी पढ़े 

टमाटर का पौधा कहाँ रखे

गमले में टमाटर लगाने के बाद आपको टमाटर के पौधे को छत की बालकनी के नीचे रखना है। जहां पर उचित धूप मिल सके। गमले में हमेशा नमी बने इसके लिए आपको जरूरत के हिसाब से दिन में 1 बार पानी डालना है। अगर आपको लगे कि पौधे में किसी प्रकार का कीट का प्रकोप लग रहा है तो उसके लिए कीटनाशक का प्रयोग कर सकते हैं।

पौधे की देखभाल कैसे करें

पौधे को कम से कम 6 से 7 घंटे धूप मिलना चाहिए। जिससे पौधा अच्छी तरह से बढ़ सके। गमले में लगाए गए पौधे में किसी प्रकार का किट ना लगे इसके लिए आप कीटनाशक का प्रयोग कर सकते हैं। इसके के लिए नीम के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखे की किसी भी छिड़काव के बाद आप 7 दिनों तक फल ना तोड़े।

FAQ :

Q : गमले मे टमाटर की खेती के लिए कौन सी खाद डाले?

Ans : ऑर्गेनिक तरीके से टमाटर की खेती करने के लिए आप वर्मी कंपोस्ट / जैविक खाद / या सड़ी हुयी गोबर की खाद का उपयोग कर सकते हैं।

Q : टमाटर की खेती कब की जाती है ?

Ans :टमाटर की खेती जून से जुलाई नवंम्बर से दिसम्बर फरवरी से अप्रैल मे की जाती है।

Q : गमले मे टमाटर कितने दिन मे फल देने लगते है

Ans : गमले में लगाया गया टमाटर लगभग 60 से 70 दिनों के अंदर तैयार होकर फल देने लगते हैं।

Q : गमने मे कौन-कौन सी सब्जियाँ उगाई जाती है?

Ans : घर की छत पर कई सब्जियां उगाई जा सकती हैं। इसमें टमाटर, हरी मिर्च, करेला, कद्दू, लौकी, खीरा सहित तमाम प्रकार की सब्जियां गमले मे आसानी से उगाई जा सकती है।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

एक बीघा से 48 लाख कमाओ इस खास फसल की खेती करके !