Join WhatsApp Channel

Join Telegram Group

प्याज का वैज्ञानिक नाम, फायदे, नुकसान, बनने वाले पकवान

प्याज का वैज्ञानिक नाम, scientific name of onion फायदे, नुकसान, बनने वाले पकवान प्याज के नुकसान प्याज के फायदे और नुकसान प्याज खाने के फायदे व नुकसान रात में कच्चा प्याज खाने के नुकसान प्याज की रेसिपी – प्याज कंद सब्जी के रूप में जाना जाता है। भारत में प्याज की खेती सबसे अधिक महाराष्ट्र राज्य में किया जाता है। यहां पर साल में दो बार इसकी फसल होती है। पहली फसल नवंबर में और दूसरी फसल मई के महीने में होती है। भारत प्याज का निर्यात अपने पड़ोसी देशों के साथ करता है जैसे नेपाल, पाकिस्तान, श्री लंका, बांग्लादेश। प्याज उत्पादन में महाराष्ट्र के साथ-साथ कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, पश्चिम बंगाल मे भी इसकी खेती बड़े पैमाने पर होती है। भारत देश में लगभग 287 हजार हेक्टर क्षेत्रफल प्याज की खेती किया जाता है। प्याज का उपयोग कई प्रकार की सब्जियों, के साथ-साथ औषधीय के रुप मे किया जाता है। आइए जानते हैं प्याज का वैज्ञानिक नाम, फायदे, नुकसान, बनने वाले पकवान। जो श्याद आप नही जानते होगें।

प्याज का वैज्ञानिक नाम एवं कुल (Gourd Scientific Name in Hindi )

  • प्याज का वैज्ञानिक नाम ‘एलियम सेपा’ (Allium Sepa) है।
  •  प्याज एक शल्ककंदीय सब्जी सब्जी है। जिसे कंद सब्जी के रूप में जाना जाता है।
  • इसका स्वाद तीखा होता है इसक स्वाद तीखे होने का कारण इसमे एक वाष्पशील तेल एलाइल प्रोपाइल डाय सल्फाइड पाया जाता है।
  • प्याज को सब्जी मसाले सलाद और अचार के रूप में अधिकतर उपयोग किया जाता है
  • प्याज की स्वादिष्ट सब्जी कैसे बनाई जाती है। आइये जानते हैं प्याज की रेसिपी के बारे में

प्याज की रेसिपी

प्याज तो लगभग सभी के घर में इस्तेमाल किया जाता है। प्याज सेहत के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है प्याज का आम तौर पर लोग सलाद और सब्जी के रुप मे करते है। लेकिन केवल प्याज की सब्जी खाने मजा ही दुसरा है। आज हम आपको प्याज की सब्जी बनाना बताएंगे जिसके लिए आपको बहुत ज्यादा सामग्री जुटाने की जरूरत नहीं है और बहुत ही कम समय में प्याज की सब्जी बनाकर तैयार कर सकते है।

प्याज की सब्जी बनाने के लिए सामान

  • प्याज
  • जीरा
  • अदरक बारीक कटा
  • हल्दी
  • नमक
  • लाल मिर्च पाउडर
  • उबला हुआ आलू
  • अमचूर पाउडर
  • हरी मिर्च
  • तेल
  • सौंफ
  • हींग
  • धनिया पाउडर

प्याज की सब्जी बनाने का आसान तरीका

  • प्याज की सब्जी बनाने के लिए सबसे पहले आपको प्याज के छिलके को उतारकर उसे अच्छे से धो लेना है।
  • इसके बाद एक बर्तन में प्याज को लंबे टुकड़ों में काट लेना है
  • अब कराही में थोड़ा सा तेल डालकर हल्की आंच पर गर्म करना है।
  • और तेल जब हल्का गर्म हो जाए तो उसमें जीरा, हींग, हल्दी और सौंफ डालकर अच्छी तरह से चलाना है।
  • हल्का सा धीमी आंच पर पकने के बाद उसमें कटा हुआ प्याज हरी मिर्च अदरक डालकर अच्छी तरह से मिलाएं।
  • इसके बाद 1 से 2 मिनट तक इसको पकाये इसके बाद देखे जब प्याज नरम हो जाए तो उसमें धनिया पाउडर, लाल मिर्च, आमचूर सहित बाकी बचे मसाले को डालकर अच्छी तरब से मिलाये।
  • इसके बाद कुछ देर तक पकने दें और फिर अपनी गैस को बंद कर दे।
  • इसके बाद इस आप प्याज की सब्जी बनकर तैयार हो चुकी है इसको सर्व करने से पहले हरी धनिया जरुर डाले।

प्याज का उपयोग

प्याज का कई तरह से उपयोग किया जाता है जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। प्याज के कच्चा खाएं या पका कर खाये दोनो हमारे लिए औषधि के रुप मे काम करता है। जो हमारे स्वास्थ्य को बेहतर करने में मदद करता है। इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व भी पाए जाते हैं।

  • प्याज का ज्यादातर उपयोग सब्जी बनाने में किया जाता है।
  • इटेलियन सलाद वाले लोग प्याज के बहुत ही शौकीन होते हैं। टमाटर व मोजेरिला चीज के साथ प्याज को सलाद में मिक्स करें और ऊपर से जैतून का तेल डालें।
  • प्याज के पकौडे भी बनाये जाते है।
  • प्याज के छोटे-छोटे टुकड़े को पास्ता व सूप में डालकर उसका स्वाद कई गुना बढ़ाया जाता है
  • चावल को स्वादिष्ट बनाने के लिए कई लोग चावल बनाते समय प्याज और जीरे का तड़का लगाकर भी बनाते हैं जिससे चावल का स्वाद और बढ़ जाता है।
  • ग्वार फली के पाउडर से ही ग्लूटेन फ्री ब्रेड बनाया जाता है।
  • सब्जी, दाल बनाया जाए उसमें अगर तड़का बिना प्याज के हो तो मजा ही नहीं आता है।
  • प्याज और टमाटर की सब्जी बहुत ही शौकीन सब्जी होती है यह लगभग हर घर मे बनाई जाती है।

चलिए आपको बताते हैं कि प्याज खाने से शरीर में किस प्रकार के फायदे और नुकसान होने है, दोनों के बारे में पूरी जानकारी देंगे तो आप हमारे साथ बने रहें और प्याज के बारे मे पूरी जानकारी नीचे प्राप्त करें।

इसे भी पढ़े:-

प्याज के फायदे (Benefits of Gourd in Hindi)

अगर आप भी प्याज नहीं खाते हैं तो यह पढ़ने के बाद आप जरूर प्याज खाना शुरू कर देंगे, क्योंकि प्याज में कई प्रकार के औषधि गुण पाए जाते हैं जो हमें स्वस्थ रखने के लिए काफी मदद करते हैं। जैसा कि हमने ऊपर बताया कि प्याज में कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि बुखार व खांसी, यौन क्षमता, सूजन व एलर्जी, हृदय, आंखों के लिए जैसी बीमारियों को बचाने में बहुत ही मददगार साबित होते हैं। प्याज बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके बारे में पूरी जानकारी हम नीचे दे रहे है। आप इसे पुरा पढ़े

1. प्याज का डायबिटीज मे फायदे

चूहों पर किए गए रिसर्च के अनुसार प्याज के रस में रक्त शर्करा को नियंत्रण करने की क्षमता होती है। क्योंकि प्याज में क्रोमियम होता है जिसके कारण यह है मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।

2. पाचन तंत्र मे प्याज के फायदे

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पाचन तंत्र का सही रखना बहुत ही जरूरी होता है। प्याज में अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है। जो गैस, कब्ज जैसी समस्याओं को दूर करने मे मदद करता है। प्याज में पाए जाने वाले इस फाइबर को ओलिगोफ्रुक्टोस कहा जाता है यह आंतों में अच्छे बैक्टीरिया को पनपने में मदद करता है।

3. ह्रदय स्वास्थ्य के लिए प्याज के फायदे

प्याज में क्वेरसेटिन गुण पाया जाता है। जो कि ह्रदय रोगियो के लिए बहुत ही अच्छा माना गया है। इसमें इसमें एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ एंटीइंफ्लेमेटरी गुण भी भी होता है। जोकि ह्रदय के रोगियों के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है। क्योंकि यह कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण करने में मदद करता है। जो हृदय को स्वस्थ रखने में बहुत ही जरूरी होता है।

4. हड्डियां मजबूत करने के लिए प्याज के फायदे

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है वैसे-वैसे ही हड्डियों में कमजोरी आती है। एक रिसर्च के अनुसार जो भी महिलाएं प्रतिदिन प्याज का सेवन करती हैं उनकी हड्डियां जो महिलाएं प्याज का सेवन नहीं करती है उनके मुकाबले 5% अधिक मजबूत होती और 50 साल की उम्र के बाद महिलाओं की हड्डियों पर सकारात्मक प्रभाव देखा गया है।

5. सूजन व एलर्जी के लिए

गांव में पहले जब कभी चोट लग जाती थी हमें सूजन आ जाता था और घरवालों को द्वारा हल्दी और प्याज को मिक्स करके उस पर लगाया जाता था और वह सही हो जाता था। ऐसा इसलिए होता था क्योंकि प्याज में क्वेरसेटिन और एंटीहिस्टामाइन नाम गुण पाया जाता है इसके कारण अगर हम प्याज का सेवन करते हैं तो एलर्जी की समस्या कम होती है और अगर प्याज को कहीं लगाते हैं तो सूजन में भी राहत मिलती है।

6. कान दर्द के लिए प्याज के फायदे

प्याज का रस कान के दर्द के लिए बहुत ही प्रभावी माना जाता है। अगर आपके कान में दर्द हो रहा है तो आप प्याज को गर्म करके उसका रस निकाल ले, घरेलू तरीके से इस्तेमाल करने पर कान का दर्द ठीक हो जाता है।

7. यौन क्षमता में प्याज के फायदे

प्याज सब्जी के साथ-साथ एक आयुर्वेदिक औषधि भी है इसका इस्तेमाल यौन क्षमता को बढ़ाने के लिए भी किया जाता है। अगर पुरुष इसका सेवन करते हैं तो पुरुषों में प्रजनन क्षमता वृद्धि होती है। एक रिसर्च में बताया गया है कि प्याज में इस्तेमाल करने से टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्तर बढ़ता है जो कि पुरुषों की प्रजनन क्षमता के लिए हार्मोन संतुलित होना जरूरी है।

8. बुखार व खांसी के लिए

प्याज का अगर घरेलू उपचार के तौर पर देखा जाए तो बुखार के समय इसका उपयोग करने से काफी राहत मिलती है। कई लोगों को बुखार व खांसी आने पर प्याज का इस्तेमाल करते हैं और उन्हें आराम मिलता है। प्याज का धुंध बहुत ही फायदेमंद होता है तथा प्याज को शहद मे मिलाकर खाने से खांसी मे आराम मिलता है। प्याज खाने के फायदे में बुखार खासी से राहत मिलता है। लेकिन इस पर अभी तक वैज्ञानिक रिसर्च नहीं हुआ है।

प्याज के नुकसान (Side Effects of Gourd in Hindi)

प्याज का उपयोग अधिकत्तर सब्जी, सलाद के रुप मे उपयोग किया जाता है। इसका लोग अपनी पसंद के हिसाब से उपयोग करते हैं लेकिन कुछ परिस्थितियों में यह हमारे लिए हानिकारक हो सकता है इसलिए आपको प्याज का उतना ही उपयोग करना चाहिए, जिससे आप को कोई समस्याओं का सामना ना करना पड़े। प्याज के खाने से हमें फायदे और नुकसान दोनों होते हैं नीचे हमने प्याज के खाने से कुछ नुकसान के बारे में बताया है।

  • अगर आप कच्चा प्याज खाते हैं तो आपके मुंह में तेज तेज बदबू आ सकती हैं इसका कारण है प्याज में मौजूद सल्फर की मात्रा का होना।
  • प्याज खून में शुगर की मात्रा काफी कम कर सकता है इसके लिए आपको डॉक्टर के सलाह से ही इसका उपयोग करना चाहिए।
  • कई लोगों में देखा गया है प्याज के रस का उपयोग करने पर उनके त्वचा पर खुजली होती है इसलिए इसके रस का इस्तेमाल करने से पहले पैच टेस्ट जरूर कराएं
  • गर्भवती महिलाओं को प्याज का सेवन कम करना चाहिए क्योंकि उसके अधिक सेवन करने से सीने में जलन की प्रॉब्लम हो सकती है।
  • कई लोगों में प्याज का अधिक सेवन करने से पेट में जलन होती है।
  • प्याज के अधिक सेवन करने से शरीर मिली लिथियम की मात्रा बढ़ सकती है इसीलिए डिप्रेशन की दवा लेने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

यहां हमने प्याज से संबंधित कुछ जानकारियां इस लेख में बताई हैं प्याज हम सब सामान्य रूप से सब्जी मे उपयोग करते हैं और लेकिन इसका अत्यधिक सेवन नहीं करना चाहिए जिससे कि किसी प्रकार की समस्या का कारण बने। अगर आपको किसी प्रकार की कोई समस्या होती है तो आप अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही उपयोग करें। आशा करता हूं कि आज हमने प्याज के बारे में जो आपको जानकारियां प्रदान की है वह आपके लिए काफी मददगार साबित हुई होंगी। ऐसे ही जानकारियों के लिए हमारे साथ जुड़े रहे। धन्यवाद

इसे भी पढ़े:-

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

1.) प्याज का वैज्ञानिक नाम और कुल क्या है ?

Answer:- प्याज का वैज्ञानिक नाम ‘एलियम सेपा’ (Allium Sepa) है।

2.) भारत में प्याज की खेती कहाँ होती है?

Answer:- भारत में प्याज की खेती ज्यादातर महाराष्ट्र राज्य में की जाती है, लेकिन यह कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और पश्चिम बंगाल में भी बड़े पैमाने पर उगाई जाती है।

3.) प्याज के क्या फायदे हैं?

Answer:- यह विटामिन सी का अच्छा स्रोत है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो सूजन को कम करने और कैंसर से बचाने में मदद करते हैं। यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करने और हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

4.) क्या प्याज यौन क्षमता बढ़ा सकता है?

Answer:-प्याज एक आयुर्वेदिक औषधि माना जाता है जो यौन क्षमता को बढ़ा सकता है, खासकर पुरुषों के लिए। शोध से पता चला है कि प्याज के इस्तेमाल से टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ता है, जो पुरुष प्रजनन क्षमता के लिए जरूरी है।

5.) क्या प्याज को बुखार और खांसी के घरेलू उपचार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है?

Answer:- बहुत से लोग बुखार और खांसी के घरेलू उपचार के रूप में प्याज का उपयोग करते हैं और ऐसा माना जाता है कि इससे राहत मिलती है। हालांकि, इसके लिए कोई वैज्ञानिक शोध नहीं हुआ है।

6.) क्या प्याज खाने के नुकसान हैं?

Answer:-हाँ, सल्फर की मौजूदगी के कारण कच्चे प्याज का सेवन करने से सांसों से तेज दुर्गंध आ सकती है। प्याज ब्लड शुगर लेवल को भी काफी कम कर सकता है, प्याज के रस का उपयोग करने के बाद त्वचा में खुजली का अनुभव भी हो सकता है, गर्भवती महिलाओं को भी प्याज का सेवन कम करना चाहिए।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

एक बीघा से 48 लाख कमाओ इस खास फसल की खेती करके !