Join WhatsApp Channel

Join Telegram Group

मछली पालन के लिए लोन कैसे लें | मत्स्य पालन लोन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

मछली पालन का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है। जिसमें कई प्रकार की संभावनाएं हैं और इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि भारतीय इतिहास में मछली को दर्शन और भोजन दोनों की दृष्टि से शुभ माना गया है। मछली उत्पादन मे विश्व में भारत का स्थान दूसरे पर है। जबकि चीन पहले स्थान पर है। भारत सरकार द्वारा मत्स्य पालन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए देश में कई प्रकार की योजनाएं चलाई जाती है। जिसके माध्यम से लोग मछली पालन का व्यवसाय करके अच्छी खासी कमाई कर सकें। इसके लिए सरकार धनराशि के साथ-साथ लोगों को प्रशिक्षण भी देती है जिससे वह मछली उत्पादन बिजनेस को सही तरीके से कर पाए जाते हैं। इस लेख के माध्यम से आप जान सकते है की, मछली का बिजनेस करने के लिए लोन कैसे प्राप्त करें, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और डाक्यूमेंट्स कौन-कौन से लगते हैं। तो हमारे साथ बने रहे

भारत की अधिकांश जनसंख्या गांव में ही रहती है। गांव के लोगों की आर्थिक स्थिति सुधारने और वहां पर स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए मत्स्य पालन का व्यवसाय बहुत ही अच्छा व्यवसाय माना जाता है। इसीलिए सरकार इसको बढ़ावा दे रही है। सरकार कई योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों को पट्टे पर तलाब देना, उन्नत प्रकार की मत्स्य बीज का उपलब्ध कराना तथा मछली पालन के प्रशिक्षण तकनीकी सहित तमाम सुविधा देती है।

मछली पालन हेतु सरकार से मिलने वाली सुविधाएं

मछली पालन का कार्य किसान के साथ-साथ अन्य लोग भी अपने सुरक्षित और कम भूमि में करके अधिक आय का स्रोत बना सकते हैं। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार दोनों लगातार कई योजनाओं के जरिए किसानों और अन्य लोगों को मदद कर रही हैं। राज्य सरकार और केंद्र सरकार बजट में इस योजनाओं के लिए अलग से व्यवस्था की गई है। सबसे बड़ी बात यह है कि काम को शुरू करने के लिए बहुत ही कम पूंजी की आवश्यकता होती है। जिसके कारण यह बिजनेस बहुत ही आसानी से शुरू किया जा सकता है। आपको बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा मछली पालन के लिए 25 हजार करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनाई गई है। इसके अंतर्गत मछली उत्पादन को बढ़ावा देना के साथ-साथ मछुवारों के सामने आने वाली समस्याओं को दूर करना ।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए मत्स्य संपदा योजना (PMMSY) का शुभारंभ किया था। सरकार द्वारा इस योजना में आत्मनिर्भर भारत के अंतर्गत 2020-21 से वर्ष 2024-25 तक देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित राज्य इस योजना को लागू करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना की शुरुआत सबसे पहले उत्तर प्रदेश में किया गया है। योजना में मछली पालने वालों को बैंक से ऋण के साथ-साथ में निशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा । जिससे वह अपने बिजनेस को आसानी से कर पाए और उसे आगे बढ़ा सकें।

इसे भी पढ़े-

मछली पालन लोन कैसे लें

मछली पालन लोन लेने के लिए आपको मछली पालन से जुड़ा हुआ कोई भी कार्य या व्यवसाय शुरू करना होगा। तभी आपको मछली पालन से संबंधित कार्य के लिए धनराशि मिलेगा। इसके लिए आपको सरकार मदद करेगी। यहां तक कि अगर आपके पास जमीन है और आप अपनी जमीन को तालाब में बनवाकर मछली पालन करना चाहते हैं। तो इसके लिए सरकार सब्सिडी भी देती है।

एक खबर के मुताबिक लगभग 1 हेक्टेयर तालाब के निर्माण मे 5 लाख तक का खर्च आता है। जिसमें केंद्र सरकार द्वारा 50% दिया जाता है। और राज्य सरकार द्वारा 25 % दिया जाता है बाकी 25% आपको अपने पास से लगाना होता है। जिन लोगों के पास पहले से तालाब है। और वह मछली पालन करना चाहते हैं या उसमें सुधार चाहते हैं। इस प्रकार के तालाबों के लिए सरकार खर्च के हिसाब से और अनुदान देती है। इसमें भी आपको अपने पास से 25 पर्सेंट पैसा लगना होता है।

अगर आप मछली पालन करने हेतु लोन लेना चाहते हैं तो आप सबसे पहले अपने राज्य मे मछली पालन से संबंधित योजनाओं की जानकारी प्राप्त करें और अगर आप उत्तर प्रदेश के किसान के रहने वाले हैं तो आप प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना मे मछली पालन के लिए लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं।

मछली पालन हेतु किसी लोन मिलेगा

मछली पालन हेतु लोन मत्स्य पालक, मछली बेचने वाले, स्वयं सहायता समूह, मत्स्य उद्यमी, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और महिलाएं, निजी फर्म, फिश फार्मर प्रोड्यूसर आर्गेनाइजेशन / कंपनीज आदि लोग मछली पालन हेतु लोन के लिए आवेदन करके लोन प्राप्त कर सकते हैं।

मछली पालन लोन पाने के लिए पात्रता

मछली पालन के लिए किसी भी विशेष पात्रता की आवश्यकता नहीं पड़ती अगर आप मत्स्य पालन व्यवसाय करना चाहते हैं। तो आपको मत्स्य विभाग द्वारा दिए जाने वाले प्रशिक्षण को प्राप्त करना आवश्यक है। प्रशिक्षण के दौरान आपको 100 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से भत्ता भी दिया जाता है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज (Important Documents)

  • आधार कार्ड (Aadhar Card)
  • निवास प्रमाण पत्र (Domicile Certificate)
  • यदि जमीन या तालाब का पेपर
  • दो पासपोर्ट साइज की फोटो (Passport Size Photo)
  • प्रशिक्षण प्रमाण पत्र
  • प्रार्थी को शपथ पत्र देना होगा, कि वह बेरोजगार है

यदि आपने जमीन या तालाब को पट्टे पर लिया है तो आपको उसके लिए कुछ अलग से डॉक्यूमेंट जमा करने होंगे जो इस प्रकार से है

  • इकरारनामा
  • पट्टा धनराशी की रसीद (फार्म 4 पर)
  • शपथ पत्र
  • तालाब की नकल जमाबंदी एंव हक सिजरा
  • इकरारनामा मछली पालक और ग्राम पंचायत के बीच में
  • नकल प्रस्ताव ग्राम पंचायत तालाब पट्टे पर देने के बारे में

इसे भी पढ़े-

मछली पालन लोन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म कहाँ से प्राप्त करें

मछली पालन व्यवसाय हेतु लोन प्राप्त करने के लिए आपको सबसे पहले अपने क्षेत्र के मछली पालन विभाग से अधिकारियों से संपर्क करना होगा और वहां से आप जानकारी भी प्राप्त कर सकते है। प्रत्येक राज्य में अलग-अलग प्रकार की योजनाएं चलती हैं। आप योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं तथा आप लोन प्राप्त करने के लिए किसी भी बैंक से भी संपर्क कर सकते हैं। अगर आप प्रधानमंत्री मत्स्य योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं। तो आप बैंक में जाकर एक आवेदन कर सकते है। आवेदन भरने के पश्चात आपके आवेदन की जांच की जाएगी और आप का आवेदन पूर्ण रूप से सही रहा तो आप को लोन दे दिया जायेगा। लेकिन आपको बता दें कि अभी प्रधानमंत्री मत्स्य योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं किया गया है।

आज के इस महत्वपूर्ण आर्टिकल को लेकर आप सभी का कोई भी सावल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स मेंं ज़रूर लिखें और आर्टिकल कैसा लगा ये भी ज़रूर बताएं। इस लेख सभी किसान भाइयों तक शेयर ज़रूर करें, धन्यवाद।

FAQs:-

प्रश्न: मछली पालन के लिए लोन कैसे मिल सकता है?

उत्तर: मछली पालन के लिए ऋण लेने के लिए आप बैंक, क्रेडिट यूनियन और सरकारी एजेंसियां मे आवेदन करके लोन प्राप्त कर सकते है।

प्रश्न: मछली पालन ऋण के लिए क्या योग्यता चाहिए?

उत्तर: मछली पालन के लिए किसी भी विशेष पात्रता की आवश्यकता नहीं पड़ती। आपको मत्स्य विभाग द्वारा दिए जाने वाले प्रशिक्षण को प्राप्त करना आवश्यक है।

प्रश्न: मछली पालन के लिए कितना लोन मिलता है?

उत्तर: 1 हेक्टेयर तालाब के निर्माण मे 5 लाख तक का खर्च आता है। जिसमें केंद्र सरकार द्वारा 50% दिया जाता है। और राज्य सरकार द्वारा 25 % दिया जाता है बाकी 25% आपको अपने पास से लगाना होता है।

प्रश्न: मछली पालन लोन का उपयोग कैसे करु?

उत्तर: आप मछली पालन से संबंधित विभिन्न प्रकार के कार्य मे लोन का उपयोग कर सकते हैं, जिसमें भूमि खरीदना या पट्टे पर देना, उपकरण खरीदना, आदि शामिल है।

प्रश्न: मछली पालन ऋण लेने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

उत्तर: ऋण लेने से पहले, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आपके पास एक अच्छी योजना हो, मछली पालन से जुड़ी लागतों और जोखिमों को समझें, और ऋण चुकाने की योजना बनाएं।

WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

Leave a Comment

एक बीघा से 48 लाख कमाओ इस खास फसल की खेती करके !